उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना – ऑनलाइन आवेदन|एप्लीकेशन फॉर्म|www.upkvib.gov.in

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना: प्रिय पाठक उत्तर प्रदेश सरकार ने उत्तर प्रदेश के बेरोजगार युवाओ को रोजगार प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना – मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना शरू की है। इस योजना के तहत सरकार बेरोजगारों शिक्षित युवा को उद्योग क्षेत्र में 25 लाख तक की परियोजना एवं सेवा क्षेत्र में 10 लाख तक की परियोजना इकाईयों के लिए ऋण प्रदान किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना का उद्देश्य

सामान्यत इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है की उत्तर प्रदेश के ज्यादा से ज्यादा शिक्षित युवाओ को स्वरोजगार के अवसर प्रदान करना जो अपना रोजगार करना चाहते है। उत्तर प्रदेश में स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत ऋण सहायता प्रदान की जाएगी जिसके माध्यम से बेरोजगार युवा अपना रोजगार शरू कर सके।

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना की लाभ

  • इस योजना का मुख्य लाभ यह है की उत्तर प्रदेश शिक्षित बेरोजगार युवाओ को रोजगार के नए अवसर मिलेंगे जिसके माध्यम से वह अपना जीवन यापन कर सकेंगे।
  • इस योजना का लाभ केवल 18 से 40 वर्ष आयु के बेरोजगार युवा ले सकते है जिनकी न्यूनतम शैक्षिक योग्यता हाईस्कूल अथवा समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण हो।
  • योजना अनुसार आवेदक का किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक/वित्तीय संस्था/सरकारी संस्था आदि का डिफाल्टर नहीं होना चाहिए।
  • ध्यान रहे यह योजना अधिसूचना के जारी होने की तिथि से 5 वर्षों तक लागू रहेगी।
  • इसके अलावा इस योजना का लाभ केवल वही ले सकते है जिन्होंने इससे पहले सरकार की किसी अन्य योजना जैसे – प्रधानमंत्री रोजगार योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना, मुख्यमंत्री रोजगार योजना अथवा राज्य सरकार द्वारा संचालित किसी अन्य स्वरोजगार योजना का लाभ न लिया हो। यदि ऐसा हे तो वह इस योजना के लिए अपात्र मन जायेगा।
Also Read :  Nursery Admission 2019-20 Delhi - Apply Online Admission Process | edudel.nic.in

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के लिए पात्रता

  • लाभार्थियों की आयु 18 वर्ष से कम नही, तथा 50 वर्ष से अधिक न हो।
  • 50 प्रतिशत तक अनुसूचित जाति/जनजाति/ पिछड़ी जाति के लाभार्थी।
  • स्थानीय कच्चे माल की उपलब्धता का आंकलन करके चयनित व्यक्तियों के लिये ग्रामोद्योग इकाई निर्धारित की जाती है।
  • स्थानीय उपभोक्ताओं की दैनिक आवश्यकताओं की वस्तुओं के उत्पादन करने सम्बन्धी इकाईयॉं स्थापित करने में वरीयता दी जायेगी।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के लिए कैसे आवेदन करे?

इस योजना के आवेदन के लिए आवेदक को एक आवेदन पत्र भरना होगा जिसे वह उपायुक्त उद्योग, जिला उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन केन्द्र प्राप्त कर सकते है। अन्यथा इसकी जानकारी ऑनलाइन भी प्राप्त कर सकते है – http://www.upkvib.gov.in/ .

आवेदन पत्र डाउनलोड करे

कितने प्रतिशत का अंशदान जमा करना होगा?

इस योजना का लाभ लेने के लिए सामान्य श्रेणी के लाभार्थियों को परियोजना लागत का 10 प्रतिशत एवं अनुसूचित जाति एवं जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक, महिला एवं विकलांग अभ्यर्थी को 5 प्रतिशत अंशदान जमा करना होगा। योजना के अनुसार सरकार किसी भी परियोजना की लगत का 25 प्रतिशत मार्जिनमनी उपलब्ध करवाएगी। उद्यम शरू होने के बाद यदि उद्यम का 2 वर्ष तक सफलतापूर्वक संचालन होता है तो सरकार द्वारा प्रदान किया गया ऋण अनुदान में परिवर्तित हो जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *